IIT कानपुर के प्रोफेसर्स ने बनाया मोबाइल मास्टरजी, ऑनलाइन पढ़ाई में स्टूडेंट्स के लिए होगा मददगार

  • कानपुर के प्रो. जनकराजन रामकुमार, डॉ. अमनदीप सिंह, अनिल झा, वीरेंद्र सिंह और जितेंद्र शर्मा ने किया निर्माण
  • इसमें स्मार्टफोन का उपयोग करते हुए टीचर्स के दिए लेक्चर और निर्देश को रिकॉर्ड किया जा सकता है

दैनिक भास्कर

Jul 05, 2020, 02:41 PM IST

कोरोना की वजह हुए लॉकडाउन के कारण देशभर में बच्चों की पढ़ाई को हो रहे नुकसान की भरपाई के लिए लगातार ऑनलाइन क्लासेस जारी है। इसी क्रम में IIT कानपुर ने मोबाइल मास्टरजी को विकसित किया है। इसके जरिए बच्चों की पढ़ाई पहले से और भी आसान और सुगम हो सकेगी। स्टूडेंट्स स्मॉर्टफोन के जरिए इसका इस्तेमाल कर सकेंगे। IIT कानपुर के प्रो. जनकराजन रामकुमार, डॉ. अमनदीप सिंह, अनिल झा, वीरेंद्र सिंह और जितेंद्र शर्मा ने मिलकर इसका निर्माण किया है। 

हल्का और कॉम्पैक्ट डिवाइस

इसमें स्मार्टफोन का उपयोग करते हुए टीचर्स के दिए लेक्चर और निर्देश को रिकॉर्ड किया जा सकता है। इस डिवाइस को ‘मोबाइल मास्टरजी’ नाम दिया गया है। आईआईटी कानपुर के वैज्ञानिकों के मुताबित यह डिवाइस हल्का और कॉम्पैक्ट है। इसमें बच्चों को निर्देश देने के लिए शीट/पुस्तक फिट करने के लिए उचित समायोजन की व्यवस्था है। साथ ही यह गैजेट घर के वातावरण के लिए बिल्कुल उपयुक्त है। लाइव लेक्चर के दौरान इसका फायदा तब मिलता है, जब वे बच्चों से सीधे जुड़ पाते हैं। इसकी मदद से स्टूडेंट्स के हावभाव को भी सीधे देखा और पढ़ा जा सकता है।

सस्ता और पोर्टेबल डिवाइस

आईआईटी कानपुर के प्रोफेसर डॉ. अमनदीप सिंह कहते है कि कोरोना ने बच्चों की पढ़ाई को काफी से प्रभावित किया है। ऐसे में बच्चों तक पहुंचाने के लिए मोबाइल मास्टर जी के जरिए रिकॉर्डिंग कर बच्चों तक लेक्चर पहुंचाया जा सकता है। इसमें ए-फोर शीट को फिक्स किया जा सकता है और मोबाइल को किसी भी पॉजिशन पर सेट किया जा सकता है। इसके अलावा इसकी आर्म की लेंथ बड़ी या छोटी की जा सकती है। उम्मीद है कि यह सस्ता और पोर्टेबल डिवाइस बच्चों के लिए काफी मददगार होगा।

7 thoughts on “IIT कानपुर के प्रोफेसर्स ने बनाया मोबाइल मास्टरजी, ऑनलाइन पढ़ाई में स्टूडेंट्स के लिए होगा मददगार”

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top