सेहत के साथ ही करिअर भी चमकाएगा योग, भारत में ही करीब 3 लाख योग टीचर के पद खाली

  • 2015 से हर साल 21 जून को मनाया जाता है अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस
  • 3 साल की डिग्री के साथ ही 1 साल या 6 माह के डिप्लोमा कोर्स उपलब्ध

दैनिक भास्कर

Jun 21, 2020, 09:17 AM IST

आज 6वां अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस है। सभ्यताकाल और पौराणिककाल से शुरू हुए योग की लोकप्रियता आज दुनिया भर में फैल चुकी है। योग की उत्पत्ति संस्कृत शब्द ‘युज’ से हुई है, जिसका अर्थ है जोड़ना। योग के दो अर्थ हैं और दोनों ही महत्वपूर्ण हैं- पहला जोड़ और दूसरा समाधि।

भागदौड़ भरी जिंदगी में हर व्यक्ति स्वस्थ रहना चाहता है, लेकिन व्यस्तता के बीच अक्सर हम अपनी सेहत को नजरअंदाज कर देते हैं। ऐसे में योग बहुत ही सरल उपाय है, जिसके जरिए हम शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रह सकते हैं।

योग में करिअर

2015 से हर साल 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। अब कई लोगों के लिए योग एक पसंदीदा करिअर ऑप्शन बन गया है। बतौर करिअर इसे अपनाने से ना केवल आप सेहतमंद, बल्कि एक बेहतर करिअर भी बना सकते हैं। आज दुनिया में योग टीचर और एक्सपर्ट्स की मांग बढ़ती जा रही है। एसोचैम की एक रिपोर्ट के मुताबिक वर्तमान में सिर्फ भारत में ही 3 लाख योग टीचर की आवश्यकता है। जानते हैं योग के क्षेत्र में करिअर ऑप्शंस के बारे में। 

योग्यता और कोर्सेस

12वीं या ग्रेजुएशन के बाद इस क्षेत्र में करिअर बना सकते हैं। ऐसे कई कॉलेज हैं, जो योग में डिग्री, डिप्लोमा या सर्टिफिकेट कोर्सेस ऑफर करते हैं। योग में 3 साल की डिग्री के साथ ही 1 साल या 6 माह के डिप्लोमा कोर्स उपलब्ध हैं। उसके अलावा बैचलर ऑफ आर्ट्स (योग), मास्टर्स ऑफ आर्ट्स (योग), डिप्लोमा इन योग थैरेपी आदि कोर्सेस भी कर सकते हैं।

सैलरी 

योग टीचर की सैलरी उनकी योग्यता, स्थान, अनुभव और प्रसिद्धि पर निर्भर करती है, हालांकि शुरुआत में औसतन 10 हजार से 25 हजार की सैलरी पा सकते हैं। बाद में जैसे-जैसे फील्ड में अनुभव बढ़ता जाएगा, उसके मुताबिक सैलरी और अवसर भी बढ़ते जाएंगे। इसके अलावा विदेशों में भी अच्छे पैकेज पर हायर किया जाते हैं। योग में पीएचडी धारकों को 1 लाख तक सैलरी मिल सकती है। 

योग कोर्सेस ऑफर करने वाले प्रमुख संस्थान-

इंस्टीट्यूट राज्य वेबसाइट
मोरारजी देसाई इंस्टीट्यूट ऑफ नेचुरोपैथी एंड योग नई दिल्ली http://www.yogamdniy.nic.in/
लखनऊ विश्वविद्यालय, लखनऊ उत्तर प्रदेश http://www.lkouniv.ac.in/
डॉ राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय, फैजाबाद उत्तर प्रदेश http://www.rmlau.ac.in/
बुंदेलखंड विश्वविद्यालय, झांसी उत्तर प्रदेश https://www.bujhansi.ac.in/en
देव संस्कृति विश्वविद्यालय, हरिद्वार उत्तराखंड  http://www.dsvv.ac.in/
गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय, हरिद्वार उत्तराखंड https://www.gkv.ac.in/
हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय, पौड़ी गढ़वाल उत्तराखंड http://hnbgu.ac.in/
पतंजलि विश्वविद्यालय, हरिद्वार उत्तराखंड https://universityofpatanjali.com/
बरकतुल्ला विश्वविद्यालय, भोपाल मध्य प्रदेश http://www.bubhopal.ac.in/
डॉ. हरिसिंह गौर विश्वविद्यालय, सागर मध्य प्रदेश http://www.dhsgsu.ac.in/
जीवाजी विश्वविद्यालय, ग्वालियर मध्य प्रदेश http://www.jiwaji.edu/
लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान, ग्वालियर मध्य प्रदेश http://www.lnipe.edu.in/
रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जबलपुर मध्य प्रदेश http://www.rdunijbpin.org/
महर्षि महेश योगी वैदिक विश्वविद्यालय, कटनी मध्य प्रदेश http://www.mmyvv.com/
कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय हरियाणा https://www.kuk.ac.in/
स्वामी विवेकानंद योग अनुसंधान संस्थान,बेंगलुरु  कर्नाटक http://www.svyasa.edu.in/
बिहार स्कूल ऑफ योग,मुंगेर बिहार https://www.biharyoga.net/
कैवल्यधाम योग इंस्टिट्यूट, पुणे महाराष्ट्र https://kdham.com/

योग में करिअर ऑप्शन्स

योग के क्षेत्र में डिग्री या डिप्लोमा करने के बाद इस क्षेत्र में सेवाएं देने के लिए भी कई विकल्प मौजूद है। योग शिक्षा पाने के बाद आप किसी भी प्राइवेट या सरकारी सेक्टर में जॉब कर सकते हैं। इसके अलावा आप अपना निजी योग सेंटर भी खोल सकते हैं। योग के क्षेत्र में जॉब के कुछ प्रमुख विकल्प:-

  • योग टीचर

  • योग मैनेजर

  • योग थैरेपिस्ट

  • योग इंस्ट्रक्टर 

  • योग कंसलटेंट 

  • योग एडवाइजर 

  • योग स्पेशलिस्ट 

  • योग प्रैक्टिशनर 

  • योग एरोबिक इंस्ट्रक्टर 

  • पब्लिकेशन अफसर (योग)

  • रिसर्च अफसर, योग एंड नेचुरोपैथी 

योग के क्षेत्र में कहां है नौकरी के अवसर:

योग की बढ़ती लोकप्रियता के चलते आज इस क्षेत्र में नौकरी के अवसर पहले की तुलना में कहीं ज्यादा है। सरकारी, प्राइवेट या निजी सेंटर खोलकर आप इस क्षेत्र में अपना करिअर बना सकते हैं:-

  • सरकारी-प्राइवेट स्कूल:- सरकारी या प्राइवेट स्कूलों में अक्सर योग टीचर्स की काफी डिमांड  रहती है। ऐसे कई स्कूल हैं, जहां योग टीचर्स का होना जरूरी होता है। 
  • अस्पताल:- अस्पताल में भर्ती मरीजों के जल्दी ठीक होने के लिए आजकल योग टीचर्स को हायर किया जा रहा है। आप यहां भी अप्लाय कर सकते हैं। 
  • हेल्थ रिसॉर्ट और स्वास्थ्य केंद्र:- हेल्थ रिसॉर्ट और स्वास्थ्य केंद्रों में भी योग एक्सपर्ट के रूप में आप अपनी सेवाएं दे सकते हैं।
  • हाउसिंग सोसायटी:- स्वास्थ्य के प्रति लोगों की सजगता की वजह से आजकल हाउसिंग सोसायटी में भी योग क्लासेज का चलन बढ़ता जा रहा है। ऐसे में जॉब के लिए यह एक अच्छा ऑप्शन साबित हो सकता है।
  • कॉर्पोरेट घराने:- बड़ी-बड़ी हस्तियां आजकल निजी तौर पर योग टीचर रखती है, जो कि योग के क्षेत्र में कमाई का एक अच्छा जरिया बन चुका है।
  • टेलीविजन चैनल:- कई टेलीविजन चैनल रोजाना योग संबंधी प्रोग्राम सुबह प्रसारित करते हैं। ऐसे में आप इन चैनल्स में भी अप्लाय कर सकते हैं।
  • निजी योग केंद्र:- मौजूदा दौर में जब इम्युनिटी बढ़ाने पर खासा जोर दिया जा रहा है, तो ऐसे में निजी योग केंद्र एक अच्छा करिअर ऑप्शन बन सकता है।

5 thoughts on “सेहत के साथ ही करिअर भी चमकाएगा योग, भारत में ही करीब 3 लाख योग टीचर के पद खाली”

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top