लॉकडाउन में जॉब क्राइसिस के बीच इन पोर्टल्स पर तलाश सकते हैं फ्रीलांस जॉब्स


  • नेशनल सैंपल सर्वे और पीरियॉडिक लेबर फोर्स सर्वे के मुताबिक देश में करीब 136 मिलियन जॉब्स खतरे के दायरे में हैं
  • वहीं कॉन्फेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री के अनुसार, अगर टूरिज्म इंडस्ट्री अक्टूबर तक स्थापित नहीं हुई तो 20 मिलियन जॉब्स जा सकती हैं

दैनिक भास्कर

May 05, 2020, 10:23 AM IST

कोरोनावायरस आउटब्रेक के बाद लॉकडाउन ने देश ही नहीं, पूरी दुनिया के जॉब मार्केट को बुरी तरह प्रभावित किया है। ऑटोमोबाइल सेक्टर से लेकर एविएशन इंडस्ट्री और एक्सपोर्ट से लेकर मैन्युफैक्चरिंग तक कोई भी क्षेत्र इससे अछूता नहीं है। नेशनल सैंपल सर्वे और पीरियॉडिक लेबर फोर्स सर्वे के अनुमान के मुताबिक देश में तकरीबन 136 मिलियन जॉब्स खतरे के दायरे में हैं। वहीं कॉन्फेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री के अनुसार, अगर टूरिज्म इंडस्ट्री अक्टूबर तक फिर से स्थापित नहीं होती है तो 20 मिलियन जॉब्स जा सकती हैं। 

फ्रीलांस वेबसाइट्स पर करें रजिस्टर

इसी बीच कई इंडस्ट्रीज में लेऑफ्स जारी हैं और हाल ही ग्रेजुएट हुए युवाओं की हायरिंग पर भी संकट मंडरा रहा है। अगर आप भी इस संकट को महसूस कर रहे हैं तो निराश होने की बजाय आप कुछ फ्रीलांस वेबसाइट्स पर रजिस्टर कर अपनी योग्यता के अनुसार जॉब तलाश सकते हैं। इससे न केवल आप आय अर्जित कर पाएंगे, बल्कि कॅरिअर में आगे भी बढ़ पाएंगे। जानिए ऐसे ही कुछ वेबपोर्टल्स के बारे में जो बड़े पैमाने पर फ्रीलांस जॉब्स की लिस्टिंग करते हैं। यहां यह जानना जरूरी है कि इनमें से कुछ पोर्टल्स पर आपको टैक्स देना पड़ सकता है जबकि ये हैल्थ इंश्योरेंस, रिटायरमेंट प्लान जैसे कंपनी बेनेफिट्स नहीं देते हैं।

वर्चुअल टीम की तरह काम करने का प्लेटफॉर्म देता है- LinkedIn ProFinder

इस बात की पूरी संभावना है कि आपकी लिंक्डइन प्रोफाइल मौजूद हो। तो क्यों न इसका पूरा फायदा उठाया जाए? 420 मिलियन से भी ज्यादा मेम्बर्स और 200 देशों में अपनी उपस्थिति के साथ लिंक्डइन प्रोफेशनल्स के साथ कनेक्ट करने का एक बेहतरीन रिसोर्स है। हाल ही लिंक्डइन ने प्रोफाइंडर के साथ फ्रीलांस के क्षेत्र में उतरने की भी तैयारी की है। यहां छोटे उद्योगपति और प्रोफेशनल्स अपने लिए फ्रीलांस अकाउंटेंट्स, बुककीपर्स, डिजाइनर्स, कॉपीराइटर्स आदि हायर करते हैं। इतना ही नहीं, प्रोफाइंडर कॅरिअर कोचेज भी उपलब्ध करवाता है जो आपके रेज्यूमे को रिव्यू करके आपको इंटरव्यूज की तैयारी करवाते हैं ताकि आप फ्रीलांस कॅरिअर में आगे बढ़ सकें।

टॉप रेटेड प्रोफेशनल्स के लिए है- Upwork

दुनिया के सबसे बड़े फ्रीलांस मार्केटप्लेसेज में शुमार होने के साथ ही अपवर्क एक टॉप रेटेड वेबसाइट के तौर पर भी पहचानी जाती हैै। यह प्लेटफॉर्म 30 से ज्यादा डोमेन्स में डिजाइन से लेकर डेवलपमेंट, अकाउंटिंग, मार्केटिंग, राइटिंग, सेल्स, एथिकल हैकिंग और कस्टमर सर्विस में कई जॉब्स उपलब्ध करवा रहा है। अपवर्क आपसे इसके प्लेटफॉर्म पर मिली पहली पांच जॉब्स की फीस का 20 प्रतिशत और उसके बाद 5 प्रतिशत हिस्सा फीस के तौर पर लेता है। मोटे तौर पर यह साइट टॉप रेटेड प्रोफेशनल्स के लिए है और यहां प्राेफाइल अप्रूव करवाना कुछ मुश्किल हो सकता है।

गिग कॉम्पिटीशंस में हिस्सा लेने का मौका देता है- Freelancer

दुनिया के 247 देशों में मौजूद इस प्लेटफॉर्म का यूजर बेस 30 मिलियन से अधिक है। इस वेबसाइट से जुड़कर आप अपने लिए कोडिंग, वेब डेवलपमेंट, ग्राफिक्स, अकाउंटिंग, डेटा एंट्री, राइटिंग, सेल्स के जॉब्स हासिल कर सकते हैं। इसके अलावा समय-समय पर फ्रीलांसर गिग कॉम्पिटीशंस का भी आयोजन करता है जिनमें कैश प्राइजेज दिए जाते हैं। आईटी कॉम्पिटीशंस इस पोर्टल की सबसे बड़ी खासियत है।

प्रति घंटे काम करने के लिए है- PeoplePerHour

जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है, यह पोर्टल प्रति घंटे के हिसाब से टैलेंट हायर करने का एक ऑनलाइन मार्केटप्लेस है। फ्रीलांसर्स को वेब बेस्ड प्रोजेक्ट्स दिलाने का काम यह पोर्टल पिछले एक दशक से कर रहा है। इस पर प्रोजेक्ट की कोलैबोरेटिव स्ट्रीमिंग की सुविधा फ्रीलांसर्स को ह्यूमन रिसोर्स की मदद लेने और वर्चुअल टीम के तौर पर काम करने में सहायता करती है। इस तरह यह न केवल आपको एक नेटवर्क बनाने बल्कि अच्छे क्लाइंट रिलेशंस बनाने में भी मदद करता है जो फ्यूचर जॉब्स को सिक्योर बनाने के लिए जरूरी हैं। यहां पेमेंट्स पाउंड्स या यूरो में किए जाते हैं।

कई डोमेन्स में फ्रीलांस के मौके देता है- Fiverr

इस प्लेटफॉर्म की शुरुआत फ्रीलांस सर्विसेज को खरीदने और बेचने के उद्देश्य से की गई थी। इन सर्विसेज की शुरुआत महज 5 डॉलर से होती है जो काम की जटिलता, स्किल, डिमांड और समय के हिसाब से बढ़ती जाती है। 30 से ज्यादा डोमेन्स ऑफर करने वाला यह पोर्टल लाखों यूजर्स के बीच लोकप्रिय है। यहां आपको एक गिग कल्चर मिलता है जहां क्लाइंट अपनी जरूरत का कोई गिग पोस्ट करते हैं। इससे संबंधित स्किलसेट रखने वाले फ्रीलांसर्स इसके लिए अपनी बिड देते हैं और उन्हें काम मिल जाता है। फाइवर खासतौर से अलग-अलग स्किलसेट रखने वाले बिगिनर्स के लिए एक अच्छा प्लेटफॉर्म साबित हो सकता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top