लॉकडाउन के बीच स्टूडेंट्स और पैरेंट्स से बातचीत करेंगे मानव संसाधन विकास मंत्री, सोमवार को एक बजे ट्विटर पर होंगे लाइव

  • छात्रों की मनोदशा, ऑनलाइन पढ़ाई में दिलचस्पी और उनकी समस्याओं को जानने के मकसद से किया जा रहा संवाद
  • पीजी स्टूडेंट्स के लिए शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने ई-पीजी पाठशाला प्लेटफॉर्म किया लॉन्च

दैनिक भास्कर

Apr 28, 2020, 11:11 AM IST

कोराना वायरस के कारण देश भर में लॉकडाउन के चलते पढ़ाई को हो रहे नुकसान के बीच सभी स्टूडेंट्स और पैरेंट्स से केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक सीधा संवाद करेंगे। यह संवाद छात्रों की मनोदशा, ऑनलाइन पढ़ाई में दिलचस्पी और स्टूडेंट्स और पैरेंट्स की समस्याओं को जानने के मकसद से किया जा रहा है। इस बारे में केंद्रीय मंत्री ने ट्विटर पर जानकारी देते हुए बताया कि वह सोमवार को दोपहर एक बजे ट्विटर पर लाइव रहेंगे।

बच्चों की मनोदशा को परखें पैरेंट्स

वहींं, इस पर केंद्रीय मंत्री का कहना है कि मौजूदा समय में बच्चों और अभिभावकों के मन में कई सवाल उठने स्वाभाविक हैं। ऐसे में सोमवार को होने वाले इस सेशन में बच्चों की पढ़ाई कैसे होगी और उनकी क्या मनोदशा है, इस बारे में पैरेंट्स ही उनके मन की बात सहजता से जान सकते है। उन्होंने कहा कि बच्चों के उत्साह और उनकी बॉडी लैंग्वेज को सभी अभिभावक ध्यान से परखें। इसी उद्देश्य से वह अभिभावकों से संवाद स्थापित कर रहे हैं।

ई-पीजी पाठशाला प्लेटफॉर्म लॉन्च

देशभर में कोरोना वायरस के कारण हुए लॉकडाउन की वजह से पढ़ाई के नुकसान की भरपाई के लिए मानव संसाधन विकास मंत्रालय छात्रों के लिए ऑनलाइन पढ़ाई को भी बढ़ावा दिया है। बहुत से स्कूलों में ऑनलाइन कक्षाएं भी शुरू की हैं। इससे पहले बीते 24 अप्रैल को शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने पीजी के स्टूडेंट्स के लिए ई-पीजी पाठशाला प्लेटफॉर्म को भी लॉन्च किया था।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top