लॉकडाउन के बीच एनबीटी ने शुरू की पहल, मुफ्त डाउनलोड कर सकेंगे चुनिंदा और बेस्ट-सेलिंग किताबें

दैनिक भास्कर

Mar 26, 2020, 02:43 PM IST

एजुकेशन डेस्क. देशभर में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर पूरे देश में लॉकडाउन कर दिया गया है। जिसके चलते 14 अप्रैल तक सभी को अपने- अपने घर में रहने के निर्देश दिए गए हैं। इससे पहले सभी स्कूल और कॉलेजों को भी बंद कर परीक्षाएं रद्द कर दी गई हैं। ऐसे में कई डिजिटल प्लैटफॉर्म स्टूडेंट्स और लोगों की मदद करने के लिए फ्री एक्सेस दे रहे हैं। इसी बीच नेशनल बुक ट्रस्ट (एनबीटी) ने एक सराहनीय पहल की है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एमएचआरडी) के तहत आने वाले एनबीटी ने लोगों को घरों में रहने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए #स्टेहोमइंडियाविथबुक्स की शुरूआत की है। इसके तहत लोगों को एनबीटी की चुनिंदा और बेस्ट-सेलिंग किताबों को मुफ्त डाउनलोड करने की सुविधा मिलेगी।

कई भाषाओं में किताबें उपलब्ध 
ये किताबें हिन्दी, अंग्रेजी, असमिया, बांग्ला, गुजराती, मलयालम, उड़िया, मराठी, कोकबोरोक, मिजो, बोडो, नेपाली, तमिल, पंजाबी, तेलुगु, कन्नड, उर्दू और संस्कृत में उपलब्ध हैं। इसमें फिक्शन, बायोग्राफी, पॉपुलर साइंस जैसे तमाम क्षेत्रों को कवर करती बच्चो और युवाओं की पसंद की अनेक किताबें हैं। इसके अलावा गुरुदेव रविंद्र नाथ टैगोर, मुंशी प्रेमचंद और महात्मा गांधी की लिखी भी कई किताबें हैं। 

कॉमर्शियल यूज की अनुमति नहीं
एनबीटी जल्द ही और किताबों को इस सुविधा से जोड़ेगा,जिसमें कुछ चर्चित टाइटल जैसे- ‘होलीडेज हैव कम’, ‘द पज्जल’, ‘गांधी तत्वा सतकाम’, ‘वूमेन साइंटिंस्टट इन इंडिया’, ‘एक्टिविटी-बेस्ड लर्निंग साइंस’, ‘ए टच ऑफ ग्लास’, ‘गांधी: वारियर ऑफ नॉन-वॉयलेंस’ आदि शामिल हैं। इसके साथ ही एनबीटी ने यह भी कहा कि इन बुक्स की पीडीएफ पढ़ने की ही मंजूरी है, उनके कॉमर्शियल इस्तेमाल की अनुमति नहीं है।

देश में अब तक 653 मामले

देश में कोरोनावायरस के अब तक 653 मामले सामने आ चुके हैं। गुरुवार को दिल्ली में 5, गुजरात में 3, महाराष्ट्र में 2 और अंडमान में 1 पॉजिटिव मिला। अंडमान में पहली बार इस संक्रमण का मामला सामने आया है। देश में कोरोनावायरस से अब तक 16 लोगों की मौत हो चुकी है। बुधवार को देश में 95 नए मामले सामने आए। संक्रमण 27 राज्यों तक पहुंच गया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top