रेनेसां यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स ने फॉरेन यूनिवर्सिटीज के ऑनलाइन कोर्सेज में कीर्तिमान रचा

रेनेसां यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स ने कोविड19 की महामारी में लॉकडाउन के समय का सदुपयोग करते हुए वर्ल्ड क्लास यूनिवर्सिटीज के प्रेस्टीजियस ऑनलाइन कोर्सेज को जॉइन किया. ये ही नहीं बल्कि कोर्स को उत्तीर्ण कर कीर्तिमान भी स्थापित किया। इन सर्टिफिकेट कोर्सेज को वे अपनी प्रोफाइल में शामिल करके उसे पहले से ज्यादा स्ट्रांग और इम्प्रेसिव बना सकेंगे,वहीं इन कोर्सेज को करने के दौरान प्राप्त गयी नॉलेज और कम्युनिकेशन स्किल उनकी पब्लिक स्पीकिंग को पॉवरफुल और मजबूत करेगी। 

रेनेसां यूनिवर्सिटी के चांसलर और विख्यात शिक्षाविद सीए स्वप्निल कोठारी ने बताया कि लॉकडाउन की शुरुआत में ही एक स्ट्रेटेजी बनाकर फॉरेन यूनिवर्सिटी के उन कोर्सेस को चिन्हित किया गया जो रेनेसां यूनिवर्सिटी के डिफरेंट डिपार्टमेंट्स के स्टूडेंट्स के काम के थे,फिर उन कोर्सेज को सरल और प्रभावी तरीके के पढ़ाने के लिए टीचर्स को ट्रेनिंग दी गयी और स्टूडेंट्स को एनरोल किया गया। फॉरेन यूनिवर्सिटीज की ऑनलाइन क्लासेस को अटेंड करने के दौरान आने वाली परेशानियों और एक्सेंट प्रोब्लेम्स (भाषा के लहजे) को ट्रैंड टीचर्स द्वारा सॉल्व किया गया। इस तरह करीब 90 दिनों की रेगुलर प्रैक्टिस से सैकड़ों स्टूडेंट्स विभिन्न विदेशी विश्वविद्यालयों के एक दर्जन के ज्यादा कोर्सेज़ को अच्छे नंबरों से पास करने में सफल रहे।

आपको बता दें कि रेनेसां यूनिवर्सिटी ने विश्व के कई टॉप क्लास यूनिवर्सिटीज से टाई अप किया है इनमें प्रमुख रूप से यूके का हार्वर्ड बिजनेस स्कूल, रशिया की साउथ यूरल स्टेट यूनिवर्सिटी,येल यूनिवर्सिटी, ऑस्ट्रेलिया का नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, स्पेन की द जेन यूनिवर्सिटी, इटली की सेन्यो यूनिवर्सिटी, जॉर्डन की फिलाडेल्फिया यूनिवर्सिटी सहित करीब 19 यूनिवसिर्टीज शामिल हैं।

इन प्रतिष्ठित यूनिवर्सिटीज से ऑनलाइन कोर्सेज करने वाले स्टूडेंट्स भी बहुत खुश और उत्साहित हैं। आइये जानतें हैं क्या है उनका कहना इस बारे में- 

हार्वर्ड बिज़नेस स्कूल ,लंदन यूनिवर्सिटी से ब्रांड मैनेजमेंट का कोर्स करने वाली पीजीडीएम की अनन्या दुबे ने बताया कि इस कोर्स को एनरोल करने से पहले वो थोड़ी नर्वस थी लेकिन रेगुलर ऑनलाइन क्लास अटेंड करने और अपने टीचर्स से गाइडेंस लेने से वह अच्छे नंबरों से पास हो पाई। वहीं इंटरनेशनल बैच की न्यारी विजयवर्गीय कहती हैं कि रेनेसां यूनिवर्सिटी के मार्गदर्शन के चलते विदेशी यूनिवर्सिटी से कोर्स करने का उनका सपना पूरा हुआ।

जॉन होंकिन्स यूनिवर्सिटी यूएसए से कोविड 19 कोर्स कर चुकीं यूपीएससी बैच की आर्ची जैन,इशिता नागर और तंज़ीम खान ने बताया कि एपेडेमिक के बारे में घर बैठे ऑनलाइन सीखना बेहद रोमांचित करने वाला अनुभव रहा। वहीं पब्लिक पालिसी चैलेंजेज कोर्स कर चुके अजय वसुनिया ने बताया कि इस ऑनलाइन कोर्स को करने के बाद उनके व्यक्तित्व में बड़ा बदलाव महसूस कर रहे हैं। यूनिवर्सिटी ऑफ वर्गिनिया यूएसए से ब्रांड मैनेजमेंट कोर्स कर चुकीं फाइव ईयर इंटीग्रेटेड कोर्स की स्टूडेंट अदिति सोनी ने बताया कि ऑनलाइन कोर्स को करना अलग ही एक्सपेरिएंस था,एक्सेंट की थोड़ी बहुत समस्या को हमारे टीचर्स ने दूर कर दिया,बहुत सीखने को मिला। रेलेवेंट एक्साम्पल्स और होम वर्क असिग्नमेंट्स से विज़न वाइड हुआ। सारे स्टूडेंट्स ने अपनी इस उपलब्धि का श्रेय चांसलर श्री स्वप्निल कोठारी और मेंटर्स को दिया है।

इन सब छात्रों के अनुभव को देख कर ये कहना गलत नहीं होगा कि रेनेसां यूनिवर्सिटी कोविड 19 में छात्रों के लिए लॉकडाउन के समय एक बेहतर विकल्प ले कर आयी है ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top