यूजीसी की गठित समितियों ने एमएचआरडी को सौंपी रिपोर्ट, विवि में जुलाई के बजाय सितंबर से सेशन शुरू करने के दिए सुझाव

  • यूजीसी ने शैक्षणिक नुकसान और ऑनलाइन शिक्षा के मुद्दों पर नजर रखने के लिए दो समितियों का गठन किया था
  • रिपोर्ट मिलने के बाद जल्द गाइडलाइंस जारी करेगा मानव संसाधन विकास मंत्रालय 

दैनिक भास्कर

Apr 27, 2020, 10:59 AM IST

यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन (यूजीसी) ने उच्च शिक्षण संस्थानों में जुलाई के जगह सितंबर से सेशन शुरू करने की सिफारिश की है। देश में कोरोना वायरस के कारण बने मौजूदा हालात को लेकर यूजीसी  तरफ से नियुक्त पैनल ने खुद इस बात की सिफारिश की है। लॉकडाउन से जुड़े मुद्दों पर यूजीसी ने दो समिति गठित की थीं। इसी पैनल का कहना है कि कोरोना महामारी को देखते हुए इस साल नया शैक्षणिक सत्र जुलाई की जगह सितंबर से शुरू होना चाहिए।

यूजीसी ने बनाए दो पैनल

यूजीसी द्वारा बने दो पैनल में से एक समिति ने हरियाणा सेंट्रल यूनिवर्सिटी के वीसी की अध्यक्षता में परीक्षा के तरीकों और वैकल्पिक सेशन के कैलेंडर पर काम किया। वहीं, इग्नू के वीसी प्रो. नागेश्वर राव की समिति ऑनलाइन एजुकेशन का स्तर सुधारने पर मंथन कर रही थी। दोनों ने ही बीते दिनों मानव संसाधन विकास मंत्रालय को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है।

गाइडलाइंस जारी करेगा मंत्रालय

यूजीसी की तरफ से शैक्षणिक नुकसान और ऑनलाइन शिक्षा के मुद्दों पर नजर रखने के लिए दो समितियों का गठन किया गया था। इसमें से एक समिति ने कहा कि सेशन जुलाई की जगह सितंबर से शुरू करें। जबकि दूसरी समिति ने ऑनलाइन परीक्षाएं करवाने का सुझाव दिया है। रिपोर्ट मिलने के बाद अब मानव संसाधन विकास मंत्रालय इस पर जल्द गाइडलाइंस जारी करेगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top