महाराष्ट्र में जुलाई में होगी 10वीं की बची परीक्षाएं, ICSE बोर्ड ने हाईकोर्ट में दी जानकारी

  • राज्य में 2 से 12 जुलाई को होने वाली 10वीं की परीक्षाओं में 23,347 स्टूडेंट्स होंगे शामिल
  • सरकार ने बोर्ड से परीक्षाओं को स्थगित कर आंतरिक मूल्यांकन प्रक्रिया आजमाने का किया अनुरोध

दैनिक भास्कर

Jun 13, 2020, 05:34 PM IST

इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (ICSE) बोर्ड की 10वीं की परीक्षाएं देशभर में जुलाई में आयोजित होंगी। इस बारे में बोर्ड ने मुंबई हाईकोर्ट में बताया कि परीक्षाओं के आयोजन में जरूरी सावधानियां बरती जाएंगी। दरअसल, इससे पहले महाराष्ट्र सरकार ने कहा था कि कोरोना महामारी के चलते परीक्षा आयोजित कराना संभव नहीं है। इस बारे में एडवोकेट जनरल आशुतोष कुंभकोणी ने अदालत को बताया था कि राज्य में संक्रमण की गंभीर स्थिति के चलते परीक्षा आयोजित कराना असंभव है। 

2 से 12 जुलाई तक होगू परीक्षा

चीफ जस्टिस दीपांकर दत्ता और जस्टिस एसएस शिंडे की बेंच ने अरविंद तिवारी की याचिका पर सुनवाई की। दायर याचिका में 2 जुलाई से 12 जुलाई के बीच आयोजित होने वाली ICSE 10वीं बोर्ड की परीक्षा के फैसले पर सवाल उठाया गया था। पहले यह परीक्षाएं 27 फरवरी से 30 मार्च के बीच आयोजित होनी थी, लेकिन कोरोना के कारण 19 मार्च से सभी परीक्षाएं स्थगित कर दी गई। महाराष्ट्र में ICSE से संबद्ध कुल 226 स्कूल हैं। राज्य में होने वाली 10वीं की परीक्षाओं में 23,347 स्टूडेंट्स शामिल होने वाले हैं। 

परीक्षा स्थगित करने करने की मांग

इस बारे में राज्य के स्कूल शिक्षा विभाग में 3 जून को कहा था कि सरकार के लिए परीक्षाओं की अनुमति देना संभव नहीं होगा। ऐसे में प्रदेश की सरकार ने ICSE बोर्ड से परीक्षाओं को स्थगित कर आंतरिक मूल्यांकन प्रक्रिया आजमाने का अनुरोध किया था। हालांकि, ICSE का मानना है कि परीक्षाएं आयोजित की जानी चाहिए। बोर्ड के मुताबिक यदि कोई स्टूडेंट रेड जोन एरिया में रहने की वजह से परीक्षा में शामिल नहीं हो पाता है, तो वह सितंबर में दोबारा आयोजित होने वाली परीक्षा में उपस्थित हो सकता है।

5 thoughts on “महाराष्ट्र में जुलाई में होगी 10वीं की बची परीक्षाएं, ICSE बोर्ड ने हाईकोर्ट में दी जानकारी”

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top