मध्य प्रदेश में स्थगित हुई 10वीं-12वीं की बोर्ड परीक्षाएं, सभी यूनिवर्सिटी और कॉलेज की परीक्षाएं भी रद्द

दैनिक भास्कर

Mar 20, 2020, 10:16 AM IST

एजुकेशन डेस्क. देश में लगातार बढ़ रहे कोरना वायरस के मामलों के चलते अब मध्य प्रदेश में भी 10वीं-12वीं की परीक्षाएं रद्द कर दी गई‌ हैं। इसके साथ ही यूजीसी के आदेश के बाद राज्य के सभी यूनिवर्सिटी और सबंध्द कॉलेज की परीक्षाएं भी 31 मार्च तक निरस्त कर दी है। दिल्ली सरकार ने भी पहले से सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों को बंद करने का आदेश जारी किया था। जिसके बाद अब गुरुवार को जारी राज्य सरकार के आदेश के बाद टीचिंग और नॉन- टीचिंग स्टाफ के लिए भी सभी स्कूलों को बंद कर दिया हैं। 

इसके साथ ही बोर्ड ने 21 मार्च से शुरू होने वाले उत्तरपुस्तिकाओं के मूल्यांकन को भी आगामी 31 मार्च तक टाल दिया है। बोर्ड के मुताबिक परीक्षाओं और कॉपियों के मूल्यांकन की की अगली तारीख की घोषणा अलग से की जाएगी। भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में लगातार हो रही बढ़ोत्तरी के मद्देनजर देशभर के कई राज्यों में स्कूलों को बंद कर दिया गया है और परीक्षाओं को स्थगित कर दिया गया है। यूपी में आगामी 2 अप्रैल तक सभी स्कूलों को बंद कर दिया गया है और परीक्षाओं को स्थगित कर दिया गया है।

दिल्ली में घरों से होगा मूल्यांकन
गुरुवार को दिल्ली शिक्षा निदेशालय ने कहा कि कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलों के मद्देनजर एहतियातन सभी सरकारी, निजी और अन्य स्कूल सभी स्टूडेंट्स, प्रिंसिपल्स, टीचिंग और नॉन- टीचिंग स्टाफ के लिए 19 से 31 मार्च तक बंद किए जा रहे हैं। इसके अलावा सभी वार्षिक परीक्षाओं को भी 31 मार्च तक के लिए पोस्टपोन किया जा रहा है। साथ ही पूरी हो चुकी परीक्षा की कॉपियों का मूल्यांकन भी घर से ही किया जाएगा। शिक्षा निदेशालय ने सभी प्रिंसिपल और स्टाफ को फोन पर उपलब्ध रहने और स्टूडेंट्स से इलेक्ट्रोनिक मीडिया को जरिए जुड़े रहने की भी सलाह दी है।

26 मार्च को होगी मीटिंग
निदेशालय ने यह भी कहा कि कोई भी टीचर बिना इजाजत के शहर के बाहर ना जाए और जरूरत पड़ने पर ड्यूटी के लिए समय पर उपस्थित हों। वहीं, नॉर्थ- ईस्ट इलाके में दोबारा से होने वाले एग्जाम्स भी 31 मार्च तक के लिए स्थगित कर दिए गए हैं। हालात को देखते हुए दिल्ली सरकार ने 31 मार्च के बाद भी स्कूल बंद रखने और अन्य जरूरी कदमों पर बातचीत के लिए 26 मार्च को मीटिंग भी बुलाई है। राज्य के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने बताया कि फिलहाल एक अप्रैल से नए सेशन के लिए स्कूल वापस से शुरू किए जाएंगे, लेकिन अगर इसके बाद भी स्कूलों को बंद रखने की जरूरत पड़ी तो पढ़ाई में हो रहे नुकसान के लिए इसका कोई समाधान निकाला जाएगा। 
 

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top