बोर्ड की सफाई: अब 3 मई के बाद ही एग्जाम की डेटशीट पर होगा फैसला , कॉपियों की जांच भी उसके बाद

  • बोर्ड के अनुसार ऑनलाइन क्लास में भी 75 प्रतिशत उपस्थिति जरूरी 
  • एनसीईआरटी ने छठी से आठवीं कक्षा के बच्चों के लिए जारी किया अल्टरनेटिव एकेडमिक कैलेंडर

दैनिक भास्कर

Apr 25, 2020, 10:40 AM IST

सीबीएसई लॉकडाउन खुलने के बाद ही बाेर्ड परीक्षा की तिथियों पर निर्णय लेगा। एक चर्चा के दाैरान बोर्ड ने स्कूलों काे यह जानकारी दी है। परीक्षा को लेकर कोई भी अपडेट अब तीन मई के बाद ही आएगा। जिन विषयों की परीक्षाएं हुई हैं। उनकी कॉपियों का मूल्यांकन भी लॉकडाउन के बाद शुरू किया जाएगा। अबतक कोई भी निर्णय नहीं लिया गया है।

ऑनलाइन क्लास में भी 75% उपस्थिति जरूरी

जल्दी रिजल्ट के लिए बोर्ड एमएचआरडी से भी संपर्क में है। अनुमति के बाद ही परीक्षा की डेटशीट जारी की जाएगी, रविवार को भी परीक्षा हो सकती है। परीक्षा के दौरान सावधानी बरतने को लेकर भी तैयारी चल रही है। बोर्ड ने कहा है कि परीक्षा और परिणाम को लेकर फर्जी खबर फैलाने वाली वेबसाइट पर कार्रवाई भी की जाएगी। सीबीएसई ने स्कूलों से कहा है कि कक्षा एक से आठ तक के सिलेबस में खुद कटौती कर सकते हैं। इसके साथ ही नौवीं से लेकर 12वीं तक के कक्षाओं में महत्वहीन टॉपिकों को नहीं पढ़ाने का भी सुझाव स्कूलों को दिया है। बोर्ड के अनुसार ऑनलाइन क्लास में भी 75 प्रतिशत उपस्थिति जरूरी है।

एनसीईआरटी: कक्षा 6-8 तक के लिए अल्टरनेटिव एकेडमिक कैलेंडर जारी

वहीं, बच्चों की पढ़ाई का नुकसान न हो इसके एनसीईआरटी ने गुरुवार को छठी से आठवीं कक्षा के बच्चों के लिए अल्टरनेटिव एकेडमिक कैलेंडर जारी किया है। इससे पहले एनसीइआरटी ने पहली से पांचवी कक्षा तक बच्चों के लिए अल्टरनेटिव एकेडमिक कैलेंडर जारी किया था। अल्टरनेटिव एकेडमिक कैलेंडर खास तौर पर उनके लिए भी तैयार किया गया है जिनके घर पर लैपटॉप नहीं है। ऑनलाइन क्लास की व्यवस्था नहीं है। कैलेंडर चार हफ्तों के स्टडी प्लान के साथ तैयार किया गया है। इसमें बताया गया है कि स्टूडेंट्स को कब क्या और किस टॉपिक की पढ़ाई होगी। इसके अलावा संस्कृत, स्वास्थ्य एवं शारीरिक शिक्षा, कला शिक्षा को भी शामिल किया गया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top