पश्चिम बंगाल और कर्नाटक भी बिना परीक्षा पास होंगे स्टूडेंट्स, दिल्ली सरकार ने भी किया फैसला

दैनिक भास्कर

Apr 04, 2020, 11:02 AM IST

एजुकेशन डेस्क. कोरोना वायरस के बढ़ते प्रसार के चलते देश भर में परीक्षाओं के स्थगन का दौर जारी है। ऐसे में कई राज्य स्टूडेंट्स की पढ़ाई को हो रहे नुकसान और नए सत्र के शुरू होने में हो रही देरी के मद्देनजर कई अहम फैसले ले रहे है। इसी बीच पश्चिम बंगाल सरकार ने भी पहली से आठवीं तक के सभी स्टूडेंट्स को बिना परीक्षा के ही अगली कक्षा में प्रमोच करने का फैसला किया है। इस बारे में गुरुवार को जानकारी देते हुए सूबे के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी का कहा कि कोरोना वायरस की वजह से देश में जो स्थिति बनी है, उसमें पहली से लेकर आठवीं कक्षा तक के सभी विद्यार्थियों को बिना परीक्षा के ही अगली कक्षा में प्रमोट किया जाएगा। इस बारे में स्कूल शिक्षा विभाग ने सभी स्कूलों को दिशा-निर्देश भी जारी कर दिए हैं।

कर्नाटक में 7वीं- 8वीं के बच्चे होंगे पास

कर्नाटक में भी कोरोना वायरस की वजह से सातवीं और आठवीं कक्षा की परीक्षाएं स्थगित कर दी गई थी। जिसके बाद अब यहां भी बिना परीक्षा के ही सातवीं और आठवीं कक्षा के स्टूडेंट्स को अगली कक्षा में प्रोन्नत किया जाएगा। सूबे के शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार ने इस बारे जानकारी दी। 

दिल्ली सरकार ने भी किया फैसला

दूसरी ओर कोरोना वायरस के बढ़ रहे प्रकोप के कारण दिल्ली सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए राज्य के सभी स्‍कूलों में 8वीं कक्षा तक के स्टूडेंट्स को ब‍िना परीक्षा ही अगली कक्षा में भेजने का फैसला किया है। इश संबंध  में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने प्रेस कांफ्रेंस कर जानकारी दी। इससे पहले सीबीएसई, केवी,एमपी, छत्तीसगढ़ समेत अन्य राज्यों में भी 8वीं तक के बच्चों को बिना परीक्षा अगली क्लास में भेजने का फैसला किया गया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top