तीन हिस्सों में बांट कर बिताएं समय; करने को महत्वपूर्ण काम भी होंगे, दिन के अंत में अच्छा भी महसूस करेंगे

दैनिक भास्कर

Apr 07, 2020, 10:10 AM IST

इस वक्त हम बाहर नहीं जा सकते। हमें भीतर ही बैठना है। कई लोगों ने इसका मतलब यह निकाल लिया कि हर समय वेबसीरीज या टीवी देखना और सोशल मीडिया पर फालतू संदेशों को इधर से उधर करना। इस वक्त अधिकांश लोग समय कैसे कटे, यह सोच रहे हैं, जबकि यह आपके जीवन का सबसे शक्तिशाली और क्रांतिकारी समय हो सकता है, बशर्ते आप अपने हर दिन को तीन हिस्सों में बांट सकें। 

1. व्यक्तिगत श्रेष्ठता : व्यक्तित्व के तीन हिस्से होते हैं- मस्तिष्क, शरीर और अंतरात्मा। इन तीनों की श्रेष्ठता के लिए हम हर दिन तीन घंटे निकालें। मस्तिष्क के लिए अच्छी किताबें पढ़िए। हर दिन कम से कम 50 पेज पढ़ने का प्रयास करें और मुझे पढ़ना पसंद नहीं है, जैसे बहानों को किनारे कर दीजिए। शरीर के लिए घर पर ही तब तक जमकर कसरत व योग करें, जब तक कि पसीने से लथपथ ना हो जाएं। अंतरात्मा के लिए कुछ देर ध्यान (मेडिटेशन) करें और नहीं आता हो तो सीखें क्योंकि दुनिया का हर सफल व्यक्ति यह जरूर करता है। इस अवधि में दूसरों की हरसंभव मदद कीजिए क्योंकि उससे आपको आतंरिक संतुष्टि महसूस होगी।  

2. बिजनेस और कॅरिअर की श्रेष्ठता : इस समय भले ही बिजनेस बंद है, लेकिन आपका दिमाग तो चालू है। हर दिन तीन घंटे इस क्षेत्र के लिए तय करें। अपनी फाइलों और कागजों को व्यवस्थित करें। अपने व्यापारिक क्षेत्र में होने वाले नए सुधारों पर गौर करें। अपने कॅरिअर और व्यापार में नई पॉलिसियों व प्रोसेस बनाने पर काम करें। यदि आपको अब तक कॅरिअर या व्यापार में वांछित सफलता नहीं मिल सकी है तो इस अवधि में वैसे वीडियोज देखें, वैसी पुस्तकें पढ़ें, ऑनलाइन कोर्सेज करें जो आपका मार्गदर्शन कर सकें। इस अवधि को अपने जीवन की सबसे क्रांतिकारी अवधि बनाएं।

3. पारिवारिक श्रेष्ठता : हर दिन अपने बच्चों को क्वालिटी टाइम दीजिए, उनको कुछ शानदार कहानियां सुनाइए, उनकी बातों को धैर्य से सुनिए और अपने जीवन के अनुभव उनके साथ शेयर कीजिए। उनको भी घर बैठे कोई हुनर सीखने के लिए प्रेरित कीजिए। अपने बुजुर्ग माता-पिता के साथ भी खूब वक्त बिताइए। आप अपने जीवनसाथी के कामों में हाथ बंटा सकते हैं। अभी समस्या यह हो गई है कि पारिवारिक वक्त के नाम पर हम सबके हाथों में मोबाइल और आंखों के सामने टीवी है। हर व्यक्ति वाट्सएप के शोरूम में अफवाह नामक कंपनी का सेल्समैन बनकर बैठा है। इन सबसे आजाद हो जाइए।

यदि आप वक्त को इन तीन हिस्सों में बांटकर बिताते हैं तो हर दिन आपके पास करने के लिए महत्वपूर्ण काम होंगे और दिन के अंत में आप अपने बारे में अच्छा महसूस करेंगे। ऐसा जीवन जिएंगे तो कोरोना प्रभाव के बाद आप जीवन के विभिन्न आयामों में और ज्यादा शक्तिशाली होकर उभरेंगे।

25 thoughts on “तीन हिस्सों में बांट कर बिताएं समय; करने को महत्वपूर्ण काम भी होंगे, दिन के अंत में अच्छा भी महसूस करेंगे”

  1. Excellent post. I was checking constantly this blog and I am impressed!
    Extremely useful information specifically the last part 🙂 I care for such information a lot.
    I was looking for this certain information for a very long time.
    Thank you and good luck.

  2. Hi, I do think this is a great web site. I stumbledupon it ;
    ) I will return yet again since I book marked it. Money and freedom is the best
    way to change, may you be rich and continue to guide others.

  3. Can I simply say what a relief to uncover an individual who genuinely understands what
    they’re talking about over the internet. You definitely realize how to
    bring an issue to light and make it important.
    A lot more people have to read this and understand this
    side of the story. I was surprised you aren’t more popular since you definitely possess the gift.

    yynxznuh cheap flights

  4. Aw, this was a really good post. Taking the time and actual effort
    to create a top notch article… but what can I say… I hesitate a lot and never seem to get anything done.
    cheap flights yynxznuh

  5. Valuable information. Fortunate me I discovered your site accidentally, and I’m surprised
    why this accident did not came about earlier! I bookmarked it.
    cheap flights 32hvAj4

  6. Oh my goodness! Impressive article dude! Thanks, However I am going
    through problems with your RSS. I don’t understand the reason why I
    am unable to join it. Is there anyone else getting the same RSS
    issues? Anybody who knows the answer will you kindly respond?
    Thanks!!

  7. I’m not sure why but this site is loading incredibly
    slow for me. Is anyone else having this issue or is it a problem on my end?
    I’ll check back later and see if the problem still exists.

  8. Today, I went to the beach with my kids. I found a sea shell and gave it to
    my 4 year old daughter and said “You can hear the ocean if you put this to your ear.” She placed the shell to her ear and
    screamed. There was a hermit crab inside and it pinched her ear.
    She never wants to go back! LoL I know this is entirely off
    topic but I had to tell someone!

  9. hello!,I really like your writing very much! percentage we
    communicate more about your article on AOL? I need a specialist in this
    space to unravel my problem. May be that’s you! Taking a
    look forward to see you.

  10. I’m impressed, I must say. Seldom do I come across a
    blog that’s both equally educative and entertaining, and let me
    tell you, you’ve hit the nail on the head. The issue is something too few people are speaking intelligently about.

    Now i’m very happy that I stumbled across this in my hunt for something regarding this.

  11. Great work! This is the type of information that should be shared across
    the web. Disgrace on the seek engines for not positioning
    this post higher! Come on over and consult with my web site .

    Thank you =)

  12. Good post. I learn something totally new and challenging on websites I stumbleupon every day.
    It’s always interesting to read content from other writers and practice a little something from their sites.

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top