जोखिम लेने में चार साल के छोटे बच्चों में एक्जीक्यूटिव, बैंकरों और डॉक्टरों के बराबर होता है ओवरकॉन्फिडेंस

  • जजमेंट-डिसीजन मेकिंग वयस्कता के आधार पर तय होने वाली बात सिर्फ भ्रम साबित हुई
  • ससेक्स यूनिविसर्टी के अध्ययनकर्ता डोमिनक पाइसेमाइयर ने किया रिसर्च

दैनिक भास्कर

Apr 08, 2020, 10:03 AM IST

कारोबारियों, बैंकरों और डॉक्टरों से भी ज्यादा जोखिम उठाने की क्षमता चार साल से कम उम्र के बच्चों में होती है। उनका आत्मविश्वास भी बहुत ऊंचा होता है। एक शोध में यह जानकारी सामने आई है। शोधकर्ताओं ने पाया है कि निर्णय लेने की क्षमता का वयस्कता से कोई लेना देना नहीं है। छोटे बच्चे भी निर्णय ले सकते हैं। 

यूके की ससेक्स यूनिवर्सिटी के अध्ययनकर्ता डॉ. डोमिनिक पाइसेमाइयर ने इस रिसर्च के बारे में कहा कि ज्यादातर लोगों का मानना है कि जजमेंट और डिसीजन मेकिंग अनुभव और वयस्कता के आधार पर तय होती है, लेकिन रिसर्च में यह बात सिर्फ भ्रम साबित हुई। 

डिसीजन मेकिंग के लिए वयस्कता जरूरी नहीं

यह जरूरी नहीं है कि डिसीजन मेकिंग के लिए वयस्कता का इंतजार किया जाए। उनके मुताबिक शोध के निष्कर्षों से संकेत मिलता है कि प्रभावी कोशिशों से व्यक्तिगत नॉलेज बढ़ाया जा सकता है। इससे व्यक्ति में ज्यादा आत्मविश्वास आता है। सीमाओं से परे सोचने और उसे अमल में लाने की ताकत बढ़ती है।

जर्नल साइंटिफिक रिपोर्टर्स में प्रकाशित इस रिसर्च के लिए बच्चों को एक कार्ड गेम खेलने के लिए कहा गया। यह कार्ड गेम बच्चों में गैंबलिंग टास्क के रूप में जाना जाता है। इसमें यह देखा गया कि प्रतिभागी ने कितने स्टिकर जीते और हारे। यही नहीं इसमें बच्चों को यह भी तय करना था कि वे खेल में कितनी रिस्क लेंगे। कार्ड में दो तरह के पैक थे। पहले पैक में सबसे ज्यादा स्टीकर जीतने और हारने की संभावना थी।

लड़कियों ने लड़कों काे पछाड़ा, जोखिम लेना पसंद किया

ओवरकॉन्फिडेंस को व्यापक रूप से पुरुष की विशेषता के रूप में देखा जाता है। इस अध्ययन में यह धारणा भी टूटी। अध्ययन में दिलचस्प निष्कर्ष के तौर पर सामने आया कि लड़कियों ने औसत रूप से अधिक सुरक्षित कार्ड चुनने की बजाय उच्च जोखिम वाली रणनीति अपनाई। इसके चलते 2.87 के स्ट्राइक रेट से लड़कों को पछाड़ दिया। शोधकर्ताओं ने उल्लेख किया, “यह इंगित करता है कि लड़कियों ने अपनी अपनी क्षमताओं को काफी बढ़ाया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top