जुलाई में भी नहीं होंगी फाइनल ईयर की परीक्षाएं, दूरदराज के कोरोनामुक्त इलाकों में शुरू हो सकते हैं स्कूल

  • वो क्षेत्र जहां इंटरनेट कनेक्टिविटी नहीं है और वह कोरोना से अप्रभावित हैं, वहां स्कूलों को देना चाहिए: सीएम
  • सीएम ने विश्वविद्यालयों से कहा- संक्रमण फैलने का खतरा न हो, तभी परीक्षा का आयोजन किया जाना चाहिए

दैनिक भास्कर

Jun 01, 2020, 10:43 AM IST

पूरे में कोरोनावायरस का प्रकोप तेजी से बढ़ता जा रहा है। इसका सबसे ज्यादा प्रभाव महाराष्ट्र राज्य में देखने को मिल रहा है। ऐसे में मौजूदा हालात को देखते हुए प्रदेश में यूनिवर्सिटी की होने वाली फाइनल परीक्षाओं को स्थगित कर दिया है। इस बारे में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने विभिन्न विश्वविद्यालयों के कुलपतियों के साथ हुई बात के दौरान कहा कि परीक्षाएं आयोजित करने कि लिए यह सुनिश्चित करें कि इससे कोरोना वायरस का प्रसार नहीं होगा। सीएम ने विश्वविद्यालयों से कहा, संक्रमण फैलने का खतरा न हो, तभी परीक्षा का आयोजन किया जाना चाहिए।

दूरदराज के क्षेत्रों में खुल सकते हैं स्कूल

इसके अलावा मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि महाराष्ट्र के दूरदराज के इलाकों में जहां इंटरनेट कनेक्टिविटी नहीं है और वह क्षेत्र कोरोना वायरस महामारी से अप्रभावित हैं, वहां स्कूलों को फिर से खोल देना चाहिए। स्कूल खुलने के बाद सोशल डिस्टेंसिंग का खास ध्यान रखा जाएं। हालांकि अभी इसपर अंतिम फैसला लिया जाना बाकी है। उन्होंने कहा कि, शैक्षणिक वर्ष जून में शुरू होना चाहिए जैसा सामान्य रूप से होता है। इसके साथ ही सीएम ने राज्य में ऑनलाइन शिक्षा प्रणाली को विकसित करने और मजबूत बनाने की आवश्यकता पर भी जोर दिया।

देश में सबसे में प्रभावित महाराष्ट्र

महाराष्ट्र में तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मद्देनजर सभी शिक्षण संस्थान लगातार बंद है। ऐसे में हालात को देखते हुए स्टूडेंट्स को जनरल प्रमोशन भी दिया गया है। जबकि सरकारी विश्वविद्यालय में फाइनल परीक्षाएं स्थगित कर दी गई। जिसके बाद बताया जा रहा था कि परीक्षा का आयोजन जुलाई में किया जा सकता है, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। महाराष्ट्र 65,168 मामलों और 2,197 मौतों के साथ कोरोनो वायरस महामारी से सबसे अधिक प्रभावित है।

 

5 thoughts on “जुलाई में भी नहीं होंगी फाइनल ईयर की परीक्षाएं, दूरदराज के कोरोनामुक्त इलाकों में शुरू हो सकते हैं स्कूल”

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top