छात्र इंजीनियरिंग में बनाना चाहते हैं अपना करियर तो शुरुआती स्तर से ही करें तैयारी


दैनिक भास्कर

Mar 18, 2020, 09:45 AM IST

इंजीनियर बनने का सपना लिए हर साल लगभग लाखों छात्र JEE Main और JEE Advanced की परीक्षा में बैठते हैं, लेकिन उन लाखों छात्रों में से केवल कुछ हजार छात्रों का ही चयन IIT और NIT जैसे शीर्ष इंजीनियरिंग कॉलेजों में हो पाता है। छात्रों की अत्यधिक संख्या और उसके विपरीत बहुत कम सीट्स के होने से प्रतिस्पर्धा अत्यधिक कठिन हो जाती है। इसलिए जो छात्र इंजीनियरिंग के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं, उनके लिए जरूरी है कि वो अपनी शुरुआती स्तर की तैयारी को बेहतर करें। ऐसे में जो छात्र अपनी परीक्षा की तैयारी को मजबूत करना चाहते हैं उन छात्रों को कुछ चीजों का विशेष ध्यान देना चाहिए- 

 

  • परीक्षा और एग्ज़ाम पैटर्न में निरंतर बदलाव से अवगत रहना 
  • सही तैयारी के लिए बेहतर कोचिंग इंस्टिट्यूट का चयन करना 
  • परीक्षा से जुड़े सभी विषयों को अच्छा ज्ञान होना 

इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए  JEE Main, JEE Advanced जैसी कठिन प्रवेश परीक्षाओं में सफलता हासिल की जा सकती है। आधुनिक दौर में किताबी ज्ञान के साथ एग्जाम का सही पैटर्न और अनुभवी शिक्षकों का साथ छात्रों को सफलता की उचाइयों तक ले कर जाता है। ऐसे में एक सही कोचिंग संस्थान,अनुभवी शिक्षकों का साथ और पढ़ने का सही तरीका बता सकता है। जिससे छात्र अपनी पढ़ाई की नींव को मजबूत कर सकते हैं।

 

जानिए इंजीनियरिंग करने वाले छात्र कैसे शुरुआती स्तर पर ही तैयारी कर सकते हैं –

जरूरी विषयों पर दें ज्यादा ध्यान-  

अगर छात्र इंजीनियरिंग की प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी करने में लगे हैं तो उनको ये याद रखना जरूरी है कि वो इन परीक्षाओं में बेहतर प्रदर्शन के लिए फिजिक्स, केमिस्ट्री और गणित जैसे कुछ महत्वपूर्ण विषयों से जुड़ी कक्षाओं में विशेष ध्यान दें। इन विषयों के मूल सिद्धांतों को सही ढंग से समझने के बाद ही इंजीनियरिंग  जैसी उच्च स्तरीय परीक्षाओं में बेहतर प्रदर्शन कर पाएंगें।

सही नेटवर्क में शामिल हों- 

अच्छे शिक्षा संस्थान के साथ आस पास का माहौल व दोस्त भी अच्छे होनें चाहिए। क्यूंकी छात्रों की पढ़ाई और व्यवहार का असर उनके आने वाले करियर पर बहुत निर्भर करता है। सही नेटवर्क के चलते भविष्य नौकरी या पढ़ाई से संबंधित विषयों में सहायता भी मिलती है।

सूझबूझ से करें सही कोचिंग इंस्टिट्यूट का चयन-

अपनी तैयारी को बेहतर बनाना चाहते हैं तो किसी भी कोचिंग इंस्टीट्यूट का चयन सोच समझ कर करना चाहिए। जहां किताबी पढ़ाई के साथ छात्रों के स्किल्स डवलपमेंट पर भी ध्यान दिया जाता हो। इसके साथ ही प्रेक्टिकल ट्रेनिंग की मदद से छात्र इंजीनियरिंग के विभिन्न विषयों में आगे बढ़ पाते हैं। ये ही नहीं बल्कि अच्छे व पसंदीदा कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए छात्र की तैयारी भी सर्वोत्त्म होनी चाहिए। अगर आप भी IIT जैसे बेहतर कॉलेज में एडमिशन लेने की सोच रहे हैं तो ऐसे कोचिंग संस्थान को चुनें जो पढ़ाई के साथ आपकी स्किल्स को भी बढ़ावा दे। इसलिए इंजीनियरिंग कर रहे कई छात्रों की पहली पसंद FIITJEE कोचिंग इंस्टिट्यूट हैं, जहां छात्रों को सफलता पाने के सभी गुण सिखाए जाते हैं जिससे छात्र प्रवेश परीक्षा में अच्छी रैंक ला सके। 

प्रवेश परीक्षाओं के लिए बेहतर तैयारी –

इंजीनियरिंग के क्षेत्र में आगे बढ़ने वाले छात्रों का शुरुआती स्तर से ही तैयार होना बहुत जरूरी है। जिससे वो प्रवेश परीक्षाओं में सफलता प्राप्त कर के अच्छे इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन ले सकें।  ऐसे में एक बेहतर कोचिंग इंस्टिट्यूट छात्र का सही साथी बन सकता है। क्योंकि एक सही इंस्टीट्यूट न केवल छात्रों को सिस्टमेटिक रूप से मार्गदर्शन देता है बल्कि सही कॉलेज में एडमिशन लेने के योग्य भी बनाता है। ऐसे में इंजीनियरिंग के क्षेत्र में एक अच्छे व बेहतर कोचिंग इंस्टिट्यूट के तौर पर FIITJEE का नाम सबसे पहले आता है। जो लगभग 28 वर्षों से छात्रों को इंजिनयरिंग के क्षेत्र में तैयार करता आ रहा है। साथ ही यहाँ से कोचिंग ले रहे छात्रों को अच्छे कॉलेज में एडमिशन प्राप्त करने में भी मदद मिलती है।  

 

किसी भी कार्य क्षेत्र में सफलता तभी हासिल होती है जब नींव मजबूत हो। FIITJEE से कोचिंग लेने वाले छात्रों का भी मानना है कि इस कोचिंग इंस्टिट्यूट नें इंजीनियरिंग के क्षेत्र में उनकी राह को आसान बनाया है। यही कारण है कि जिन बच्चों की रूचि इंजीनियरिंग क्षेत्र में अपना करियर बनाने की होती है वो कोचिंग के लिए FIITJEE को ही पहली पसंद के रूप में रखते हैं। जिसके कई मुख्य कारण हैं- सफल व पैटर्न प्रूफ पढ़ाई का वातावरण,  शुरुआती स्तर पर मिलने वाली स्किल्स, तार्किक विचारों की क्षमता को बढ़ावा देना आदि।

 

FIITJEE  इंजीनियरिंग में करियर बनाने वाले छात्रों को इस योग्य बनाता है कि वो लाखों उम्मीवारों की भीड़ में उभर कर सामने आयें और बेहतर शिक्षण संस्थान के साथ अच्छी नौकरी के योग्य उम्मीदवार बनें। आपको बता दें कि FIITJEE द्वारा इंजीनियरिंग से जुड़ी विभिन्न परीक्षाओं जैसे- JEE MAIN, JEE ADVANCED के लिए छात्रों को तैयार किया जाता है।

 

आइए जानें कि इस कोचिंग संस्थान में छात्रों के लिए क्या है ख़ास

 

छात्रों के अनुरूप ख़ास वातावरण- बच्चों के करियर को बेहतर रूप से निखारने के लिए कोचिंग इंस्टिट्यूट का हाइ टेक टेक्नोलॉजी से ज्यादा जरूरी पर्सनल अटेंशन देना है। जिसकी मदद से छात्र अपने स्तर की तैयारी को बढ़ाते हुए इंजीनियरिंग की विभिन्न उच्च स्तरीय प्रवेश परीक्षाओं में सफल हो सके। यही कारण है कि FIITJEE द्वारा छात्रों को छोटे-छोटे बैच में विभाजित किया जाता है। जिससे छात्रों को पर्सनल अटेंशन मिल सके और क्लास में मौजूद टीचर छात्र पर समान रूप से ध्यान दे पाए। इस तरह से छात्रों और शिक्षकों के बीच बेहतर तालमेल बनता और छात्र अपनी छोटी से छोटी समस्या को पूछने में कतराता भी नहीं है। 

 

बेस्ट टीचर फैक्लटी- FIITJEE में छात्रों को अनुभवी शिक्षकों की सुविधा मिलती है, जो छात्रों को सही ढंग से पढ़ाने के साथ-साथ उन्हें प्रवेश परीक्षाओं के लिए ट्रेनिंग भी देते हैं। यहाँ उपस्थित सभी शिक्षक अपनी-अपनी फील्ड में माहिर होते हैं।  जिससे छात्रों का सही मार्गदर्शन और आत्मविश्वास बढ़ता है।

 

लेटेस्ट व गुणवत्त स्टडी मटिरियल- FIITJEE में अनुभवी शिक्षक के साथ छात्रों को लेटेस्ट स्टडी मटिरियल भी उपलब्ध कराया जाता है ताकि छात्र प्रवेश परीक्षा के पैटर्न में हो रहे बदवालों और ट्रेंड्स से निरंतर वाकिफ रहें। इसके साथ ही परीक्षा के दौरान छात्र इन स्टडी मटीरियल के जरिये घर बैठे ही अपनी तैयारी पूरी कर पाएँ।  

 

पैटर्न प्रूफ टीचिंग- FIITJEE हमेशा छात्रों को मौलिक रूप से तैयार करता रहा है। FIITJEE एक व्यापक तरीके से पढ़ाने में विश्वास करता है ताकि छात्र IIT-JEE (पैटर्न के बावजूद), बोर्ड, NTSE, KVPY, ओलंपियाड और अन्य इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं में अच्छा प्रदर्शन करें। इस तरह से यहाँ पर पढ़ने वाले छात्र न केवल बेहतर शिक्षा प्राप्त कर पाते हैं बल्कि फंडामैंटल कान्सैप्ट को समझ कर हर लेवल की परीक्षा में सफलता हासिल कर पाते हैं। इसके साथ ही उन छात्रों से आगे निकल जाते हैं, जो अपनी तैयारी को केवल पैटर्न तक सीमित रखते हैं न कि फंडामैंटल कान्सैप्ट को समझने की कोशिश करते हैं।

 

इंजीनियर बनने के लिए सबसे पहला कदम शिक्षा संस्थान होता है। इसलिए अच्छे कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए छात्रों का शुरुआती स्तर पर मजबूत रहना बहुत जरूरी है। एक बेहतर कोचिंग संस्थान छात्र को इंजीनियर बनने के सफर में अपना योगदान कर सकता है। तो अगर आप भी JEE  MAIN, JEE ADVANCED जैसी कठिन प्रवेश परीक्षाओं में अच्छा प्रदर्शन करना चाहते हैं तो अपनी सूझबूझ से एक अच्छे कोचिंग इंस्टिट्यूट का चयन करें जो आपको पढ़ाई के साथ प्रेक्टिकल स्किल्स में भी शिक्षा दे। 

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top