घरों में कैद स्टूडेंट्स ले रहे डिजिटल लर्निंग टूल्स का सहारा, बायजूस-कोर्सेरा ने फ्री एक्सेस का किया ऐलान

दैनिक भास्कर

Mar 15, 2020, 05:37 PM IST

एजुकेशन डेस्क. देशभर में फैल रहे कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर देश के 15 राज्यों में सभी स्कूल-कॉलेज समेत शिक्षण संस्थान बंद कर दिए गए हैं। ऐसे में बच्चों की पढ़ाई में होने वाले नुकसान और साल बर्बाद होने से रोकने के लिए कई ई-लर्निंग ऐप सामने आए हैं। देश में इन हालातों के चलते बायजूस, वेदांतु,टॉपरजैसे डिजिटल एजुकेशन प्लेटफॉर्म ने अब घरों में कैद स्टूडेंट्स को फ्री एक्सेस देने का ऐलान किया हैं। दरअसल, दुनिया के 145 देशों सहित भारत के 13 राज्यों में कोरोनावायरस के चलते लोगों की भीड़ जमा ना हो इसके लिए कई जगह स्कूल-कॉलेज बंद कर दिए गए हैं।

ऑनलाइन क्लासेस से होगी पढ़ाई
देश में लगातार बंद होते स्कूल-कॉलेज की वजह से अब घर बैठें स्टूडेंट्स डिजिटल टूल्स की मदद से अपनी पढ़ाई कर रहे हैं। माइक्रोसॉफ्ट का कहना कि उनकी टीम स्टूडेंट्स को एक ऐसी ऑनलाइन क्लास प्रोवाइड कराएगी जिसे मोबाइल,टेबलेट, पीसी आदि पर एक्सेस कर सकेंगे। इसके जरिए बच्चे फेस-टू-फेस कनेक्शन्स,असाइनमेंट,कंर्वसेशन आदि भी आसानी से वर्चुअली कर पाएंगे। वहीं, ब्लैकबोर्ड ने बताया कि यहां मौजूद सभी कंटेन्ट हर वर्ग के छात्र के लिए उपयोगी साबित होंगे। नोएडा की शिव नादर यूनिवर्सिटी के मुताबिक कोरोनावायरस को लेकर बने हालात में इस तरह के प्रयास बच्चों के लिए काफी मददगार होंगे। यूनिवर्सिटी ने यह भी बताया कि 16 मार्च से स्टूडेंट्स के लिए ऑनलाइन क्लासेस भी शुरू की जाएंगी।

अगस्त तक फ्री एक्सेस देगा अव्या स्पेसेस 
ग्लोबल कम्यूनिकेटर अव्या होल्डिंग कॉरपोरेशन ने हाल ही में अपने अव्या स्पेसेस कोलेबोरेशन सॉफ्टवेयर को देश के बंद हो चुके सभी शिक्षण संस्थानों के लिए अगस्त तक फ्री एक्सेस देने की घोषणा की है। कंपनी के मुताबिक अव्या स्पेसेस के जरिए वेब पर सुरक्षित तरीके से लेक्चर्स और स्कूलवर्क किए जा सकते हैं। अव्या इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर विशाल अग्रवाल ने कहा कि हम जानते है ऐसे हालात में जब देश में कोरोना की वजह से पढ़ाई पर असर पड़ रहा है, ऐसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म काफी महत्वपूर्ण साबित होंगे। वहीं, आईआईटी कानपुर ने भी शनिवार को कहा कि कोरोना वायरस की वजह से स्थगित हुई क्लासेस अब फ्री ऑनलाइन प्रोग्रामिंग ट्यूटर प्रूटर के जरिए कराई जाएंगी।

अप्रैल तक बायजूस की फ्री एक्सेस
दूसरी तरफ ऑनलाइन लर्निंग ऐप बायजूस ने भी अप्रैल अंत तक सभी स्कूल स्टूडेंट्स को पूरे ऐप पर फ्री एक्सेस देने का फैसला किया है। जिसके बाद अब पहली से बारहवीं तक के सभी बच्चे बायजूस के लर्निंग प्रोग्राम्स अप्रैल तक फ्री में इस्तेमाल कर पाएंगे। वहीं, दुनिया के बड़े ई-लर्निंग प्लेटफॉर्म में से एक कोर्सेरा ने भी जुलाई अंत तक अपने कंटेंट फ्री में उपलब्ध कराने का ऐलान किया है। इसके अलावा टॉपर के सीईओ और फाउंडर जिशान हयात ने कहा कि देश में हो रहे ऐसे हालातों के बीच हम बच्चों को इस तरह प्रभावित नहीं होने देंगे और हमसे जो भी बन सकेगा हम करेंगे। साथ ही जामिया मिलिया इस्लामिया भी छात्रों को पढ़ने के लिए ऑनलाइन स्टडी मैटेरियल उपलब्ध करवा रहा है। 

153 देश कोरोना की चपेट में
दुनिया के 153 देशों में अभी तक 1 लाख 56 हजार 932 मामले सामने आ चुके हैं। जबकि भारत के 13 राज्यों में इस संक्रमण के 109 मामलों की पुष्टि हो चुकी हैं। देश में बढ़ रहे मामलों के मद्देनजर करीब 15 राज्यों में सभी शिक्षण संस्थानों के अलावा सिनेमा हॉल को बंद और सामूहिक आयोजनों को रद्द कर दिया गया है। यूनाइटेड नेशन एजुकेशन्स, साइंटिफिक एंड कल्चरल ऑर्गेनाइजेशन (यूनेस्को) ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया कि कोरोनावायरस के चलते 13 देशों के करीब 29 करोड़ स्टूडेंट्स पर असर पड़ा है, जिससे निपटने के लिए हम डिस्टेंस लर्निंग प्रोग्राम का सहारा ले रहे हैं। 
 

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top