गवर्नमेंट जॉब की पाने की हैं चाह तो बारहवीं के बाद सरकारी नौकरी के लिए दें ये कॉम्पिटीटिव एग्जाम

  • बारहवीं पास स्टूडेंट्स भारतीय सेना में दो तरह से प्रवेश ले सकते हैं, ये दोनों ही आपको सेना में पर्मानेंट कमीशन देते हैं
  • बारहवीं पास स्टूडेंट्स के लिए महत्वपूर्ण है एसएससी सीएचएसएल (कम्बाइन्ड हायर सेकंडरी लेवल) एग्जाम

दैनिक भास्कर

Jun 29, 2020, 05:34 PM IST

हमारे देश में ऐसे युवाओं की कमी नहीं है जो गवर्नमेंट जॉब की चाह रखते हैं। ऐसा हो भी क्यों न, आखिर ये जॉब्स अच्छी सैलरी के साथ अन्य भत्ते, जॉब सिक्योरिटी और तमाम बेनेफिट्स जो प्रदान करती हैं। गवर्नमेंट जॉब हासिल करने का अपना सपना पूरा करने के लिए इन युवाओं को कॉम्पिटीटिव एग्जाम्स की राह से होकर गुजरना पड़ता है। 

आमतौर पर एस्पिरेंट्स इन एग्जाम्स में अपीयर होने के लिए अपने ग्रेजुएट होने का इंतजार करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि कई ऐसे सरकारी एग्जाम्स भी कंडक्ट किए जाते हैं जिनमें आप बारहवीं कक्षा पास करने के तुरंत बाद ही अपीयर हो सकते हैं और जॉब भी हासिल कर सकते हैं? जानिए ऐसे ही कुछ प्रमुख एग्जाम्स के बारे में-

भारतीय सेना के लिए हैं ये एग्जाम्स

बारहवीं पास स्टूडेंट्स भारतीय सेना में दो तरह से प्रवेश ले सकते हैं। ये दोनों ही एग्जाम्स आपको सेना में पर्मानेंट कमीशन देते हैं। इनमें पहला है एनडीए व एनए एग्जाम और दूसरा है टेक्निकल एंट्री स्कीम (टीईएस)। इसके अलावा 10+2 नेवी बीटेक एंट्री के माध्यम से नौसेना के लिए रिक्रूटमेंट किया जाता है।

  • एनडीए व एनए एग्जाम : नेशनल डिफेंस एकेडमी व नेवल एकेडमी एग्जाम यूपीएससी द्वारा साल में दो बार आयोजित किया जाता है। इसके जरिए आर्मी, नेवी और एयरफोर्स में रिक्रूटमेंट्स किए जाते हैं। फिजिक्स और मैथ्स में बारहवीं पास या बारहवीं का एग्जाम दे रहे स्टूडेंट्स इसके लिए आवेदन कर सकते हैं। आवेदक की आयु 16.5 से 19.5 वर्ष के बीच होनी चाहिए। सलेक्शन होने के बाद कैंडिडेट्स को चार वर्ष की ट्रेनिंग भी दी जाती है।
  • टीईएस : टेक्निकल एंट्री स्कीम में अप्लाई करने के लिए स्टूडेंट्स का साइंस स्ट्रीम यानी फिजिक्स, केमिस्ट्री व मैथ्स विषयों के साथ कम से कम 70 फीसदी अंकों से बारहवीं पास होना जरूरी है। इस स्कीम में डायरेक्ट एसएसबी एंट्री के जरिए प्रवेश दिया जाता है। आवेदक की आयु 16.5 से 19.5 वर्ष के बीच होनी चाहिए। स्कीम के लिए चयनित उम्मीदवारों को पांच साल की ट्रेनिंग दी जाती है।
  • 10+2 नेवी बीटेक एंट्री : नेवी में एंट्री देने वाले इस एग्जाम के लिए आपका न्यूनतम 70 प्रतिशत अंकों से फिजिक्स, केमिस्ट्री व मैथ्स विषयों के साथ बारहवीं पास करना और दसवीं या बारहवीं में इंग्लिश में कम से कम 50 फीसदी अंक होने जरूरी हैं। चयन के लिए उम्मीदवारों को उनकी जेईई मेन की रैंक के आधार पर शॉर्टलिस्ट किया जाता है इसलिए जेईई मेन में अपीयर होना भी एक आवश्यक योग्यता है। आवेदक की आयु 16.5 से 19.5 वर्ष के बीच होनी चाहिए। चुने गए उम्मीदवारों को चार वर्ष की ट्रेनिंग दी जाती है।

स्टाफ सलेक्शन कमीशन एग्जाम्स

एसएससी एग्जाम्स देश के कुछ सबसे लोकप्रिय एग्जाम्स में शामिल हैं। बारहवीं पास स्टूडेंट्स के लिए महत्वपूर्ण है एसएससी सीएचएसएल (कम्बाइन्ड हायर सेकंडरी लेवल) एग्जाम। इस कैटेगरी में आयोजित होने वाली मुख्य परीक्षाएं हैं-

  • पीए (पोस्टल असिस्टेंट) : इस एग्जाम को पास करने के बाद आप पोस्ट ऑफिस में एक पोस्टल असिस्टेंट के तौर पर नियुक्त किए जातेे हैं।
  • डीईओ (डेटा एंट्री ऑपरेटर) : बारहवीं पास होना इसकी योग्यता है लेकिन ऑफिस ऑफ कॉम्प्ट्रोलर एंड ऑडिटर जनरल ऑफ इंडिया में डीईओ की पोस्ट के लिए साइंस मैथ्स में बारहवीं पास होना जरूरी है।
  • एलडीसी (लोअर डिवीजन क्लर्क) : यह परीक्षा पास कर लेने के बाद आप आगे चलकर डिपार्टमेंट के एग्जाम देकर प्रमोशन भी पा सकते हैं।

एसएससी के अन्य एग्जाम्स : सीएचएसएल के अलावा एसएससी कुछ और जॉब्स के लिए भी परीक्षाएं आयोजित करता है जैसे-

  • स्टेनोग्राफर : एसएससी स्टेनोग्राफर ग्रेड सी और ग्रेड डी के एग्जाम लेता है जिसके लिए बारहवीं पास होने के साथ स्टेनोग्राफी की जानकारी जरूरी है। ग्रेड सी के लिए 18 से 30 वर्ष और ग्रेड डी के लिए 18 से 27 वर्ष के उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं। कम्प्यूटर बेस्ड एग्जाम पास करने के बाद स्किल टेस्ट भी लिया जाता है। स्टेनोग्राफी टेस्ट हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में लिया जाता है।
  • जनरल ड्यूटी कॉन्स्टेबल : एसएससी द्वारा यह एग्जाम बीएसएफ के अलावा सीआईएसएफ, आईटीबीपी, सीआरपीएफ, राइफलमैन में कॉन्स्टेबल के पदों पर भर्ती के लिए लिया जाता है जिसमें आप बारहवीं के बाद अपीयर हो सकते हैं।

भारतीय रेलवे रिक्रूटमेंट एग्जाम

भारतीय रेलवे को सरकारी जॉब हासिल करने के लिए सबसे पसंदीदा क्षेत्रों में से एक माना जाता है। देश की इस सबसे बड़ी पब्लिक सेक्टर कंपनी में नौकरी की तलाश करने वाले उम्मीदवारों के लिए कई अवसर उपलब्ध हैं, खासतौर से बारहवीं पास करने वाले स्टूडेंट्स के लिए। आरआरबी यानी रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड विभिन्न जोन्स के हिसाब से इन परीक्षाओं का आयोजन करता है। बारहवीं पास स्टूडेंट्स के लिए आरआरबी जिन पदों के लिए परीक्षाएं आयोजित करता है, वे हैं-

  • रेलवे क्लर्क और कॉनस्टेबल्स
  • ग्रुप डी स्टाफ
  • असिस्टेंट लोको पायलट
  • लोअर डिवीजन क्लर्क और मल्टी टास्किंग स्टाफ
  • रेलवे इंफॉर्मेशन डिपार्टमेंट
  • रेलवे ड्राइवर

5 thoughts on “गवर्नमेंट जॉब की पाने की हैं चाह तो बारहवीं के बाद सरकारी नौकरी के लिए दें ये कॉम्पिटीटिव एग्जाम”

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top