क्विक हील की चीफ ह्यूमन रिसोर्स ऑफिसर ने बताए साइबर सिक्युरिटी क्षेत्र में रोजगार पाने के तरीके

दैनिक भास्कर

Mar 15, 2020, 12:38 PM IST

एजुकेशन डेस्क. नैसकॉम की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में 2025 तक 10 लाख स्किल्ड साइबर सिक्युरिटी प्रोफेशनल तैयार होंगे। इस क्षेत्र में जॉब के मौकों को लेकर क्विक हील टेक्नोलॉजीज लिमिटेड की चीफ ह्यूमन रिसोर्स ऑफिसर रीतू रैना से दैनिक भास्कर ने बातचीत की।

आपकी कंपनी को कैसी योग्यता वाले उम्मीदवार चाहिए?
टेक्नोलॉजी कंपनी होने के नाते हमारी ज्यादातर जरूरत टेक टैलेंट की होती है। इसमें टेक्नोलॉजी से संबंधित डोमेन जैसे आईटी और कंप्यूटर साइंस के इंजीनियरिंग ग्रैजुएट शामिल होते हैं। सेल्स के लिए अनुभवी प्रोफेशनल पर फोकस करते हैं।

फ्रेशर्स और अनुभवी पेशेवरों के लिए क्या अवसर हैं?
किसी भी अन्य सेक्टर की तरह, साइबर सिक्युरिटी कंपनियां भी स्पेशलाइज्ड फ्रेशर की भर्ती करती हैं। उदाहरण के लिए कंप्यूटर या आईटी इंजीनियर। उन्हें हमारी रिसर्च एंड डेवलपमेंट टीम के साथ ट्रेंड करने के बाद उनकी रुचि व योग्यता के आधार पर प्रोजेक्ट दिए जाते हैं। लैटरल हायरिंग के लिए हम ऐसे लोग चाहते हैं, जिन्होंने सी, सी++, विंडोज कर्नल, मालवेयर एनालिसिस, ऑटोमेशन और डेटा साइंस में काम किया हो।

साक्षात्कार की तैयारी कैसे करें?
हम ऐसे लोगों को तवज्जो देते हैं, जिनमें खुद से कुछ कर दिखाने की ललक हो। यदि इंटरव्यू के दौरान पैशन और ग्रोथ के लिए उत्साह दिखता है, तो उसे वरीयता मिलती है। टेक्निकल रोल के लिए हमारी प्राथमिकता वर्क एक्सपीरियंस है।

आपकी कंपनी में इस समय सबसे ज्यादा जॉब किस सेगमेंट में है?
नई नियुक्तियों में हमारा फोकस इनोवेशन, आईपी और रिसर्च एंड डेवलपमेंट पर होता है। ग्रोथ के लिए सेल्स डिपार्टमेंट में भी नई नियुक्तियां करते रहते हैं।

प्रवेश करने की प्रक्रिया क्या है?
कैंपस हायरिंग के माध्यम से फ्रेश ग्रेजुएट्स की भर्ती करते हैं। उम्मीदवार हमारे कॅरिअर पेज के माध्यम से संपर्क कर सकते हैं।

क्या आपकी कंपनी में कर्मचारी एक डिपार्टमेंट से दूसरे डिपार्टमेंट में ट्रांसफर हो सकते हैं?
हां। लैटरल ट्रांजिसन हमें अपना टैलेंट पूल बेहतर बनाने और बहुमुखी प्रतिभा वाले लीडर व प्रोफेशनल तैयार करने में मदद मिली है।

भविष्य का परिदृश्य क्या होगा?
मौजूदा मार्केट को देखते हुए मशीन लर्निंग, बिग डेटा, आईओटी, क्लाउड कम्प्यूटिंग, ब्लॉकचेन जैसी स्किल की मांग बढ़ रही है। इनसे जुड़े जॉब ज्यादा आएंगे।

2022 तक 305 करोड़ डॉलर का होगा बाजार

  • नैसकॉम की एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत 2025 तक 10 लाख स्किल्ड साइबर सिक्युरिटी प्रोफेशनल तैयार करेगा
  • डेटा सिक्युरिटी काउंसिल ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में साइबर सिक्युरिटी का बाजार 2019 में 197 करोड़ डॉलर का था
  • 2022 तक साइबर सिक्युरिटी का बाजार बढ़कर 305 करोड़ डॉलर का हो जाएगा
  • दुनिया के मुकाबले साइबर सिक्युरिटी सालाना 1.5 गुना ज्यादा की बढ़ोतरी हो रही है

रोजगार के ये मौके

  • क्वालिटी एश्योरेंस मैनेजर 
  • सिक्युरिटी लैब्स इंचार्ज
  • प्रोडक्ट मैनेजर
  • आईओटी सिक्युरिटी टेक्नीशियन
  • सपोर्ट मैनेजर
  • डेवलपमेंट इंजीनियर
     

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top