एनटीए ने स्पष्ट किया- सीबीएसई बोर्ड और जेईई मेन्स की डेट क्लैश नहीं होंगी, मिलकर तय करेंगे एग्जाम की अगली तारीख

दैनिक भास्कर

Mar 21, 2020, 12:59 PM IST

एजुकेशन डेस्क. कोरोना वायरस संक्रमण के प्रति एहतियात बरतते हुए सीबीएसई और जेईई मेन्स-2 की परीक्षाएं टाल दी गई हैं। 31 मार्च को स्थिति देखने के बाद नई तारीखों की घोषणा की संभावना है। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने अब स्पष्ट किया है कि एग्जाम्स रिशेड्यूल होने पर दोनों परीक्षाओं की तारीखों में टकराव की स्थिति नहीं बनेगी। एनटीए और सीबीएसई दोनों मिलकर एग्जाम्स की नई तारीख तय करेंगे। सीबीएसई 12वीं में लगभग 12 लाख व जेईई में 9 लाख स्टूडेंट्स परीक्षा दे रहे हैं। एग्जाम्स टलने से तैयारियों में जुटे छात्रों को आशंका थी कि आगे चलकर दोनों एग्जाम्स की तारीखें टकरा सकती हैं। 12वीं बोर्ड के आठ पेपर अभी होने बाकी हैं।

जेईई-नीट में कम गैप संभावित
एनटीए जेईई मेन्स की परीक्षाओं को अगर अप्रैल में रिशेड्यूल करता है तो उसके सामने 3 मई को होने वाले नीट एग्जाम की भी चुनौती रहेगी। ऐसा इसीलिए क्योंकि अब जेईई मेन्स व नीट के पेपर में अंतराल कम होगा। नीट का पेपर ऑफलाइन मोड में होगा। सेंटर तक पेपर पहुंचाने के साथ उनकी सिक्योरिटी भी करनी होगी। जेईई मेन्स ऑनलाइन होगा। इसी कारण अप्रैल मध्य तक अगर जेईई मेन्स हो जाता है तो ही नीट के लिए एनटीए को पर्याप्त समय मिल पाएगा।

ऑल इंडिया रैंक देरी से होगी जारी
मेन्स आगे बढ़ने पर इसका रिजल्ट और ऑल इंडिया रैंक की तारीखें भी आगे बढ़ सकती हैं। जेईई मेन्स अप्रैल का रिजल्ट 30 अप्रैल को प्रस्तावित था। अब यह तभी संभव हो पाएगा, जब एनटीए अप्रैल मध्य तक परीक्षाएं करवाए।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top