आईटी कंपनी कॉग्निजेंट ने 1.39 लाख भारतीय कर्मचारियों को 25% ज्यादा सैलरी देगी; लगन, ईमानदारी से प्रभावित

  • सीईओ ब्रायन हम्परीज ने ईमेल से सभी कर्मचारियों को दी सूचना
  • कोरोना संकट के बीच भी सेवाओं को जारी रखने के लिए दी जाएगी अतिरिक्त सैलरी
  • अप्रैल में मिलेगा फायदा, आगे देने पर भी विचार

दैनिक भास्कर

Mar 28, 2020, 05:00 PM IST

एजुकेशन डेस्क. कोरोनावायरस के चलते कई लोगों की नौकरियों पर संकट है। कई को वेतन नहीं मिल पा रहा है। ऐसे में अमेरिकन आईटी कंपनी कॉग्निजेंट संकट के वक्त में घर से ही असाधारण काम करने पर अपने कर्मचारियों पर मेहरबान हुई है। कंपनी ने भारत में काम कर रहे अपने 1 लाख 30 हजार कर्मचारियों को अप्रैल में 25 प्रतिशत ज्यादा वेतन देने का ऐलान किया है।

ईमेल भेजकर कर्मचारियों को किया सूचित
आईटी कंपनी कॉग्निजेंट के सीईओ ब्रायन हम्परीज ने एक ईमेल भेजकर सभी कर्मचारियों को इसकी सूचना दी है। ईमेल में हम्परीज ने लिखा कि ऐसे मुश्किल समय में भी उसके कर्मचारी ग्राहकों के लिए सेवाओं को सुचारू बनाने में लगे हैं। वह उनके लगन, ईमानदारी और साहस की सराहना करते हैं। कंपनी के मुताबिक वह भारत और फिलीपींस में अपने एसोसिएट और उससे नीचे के स्तर के कर्मचारियों को अतिरिक्त सैलरी का फायदा देगी। अप्रैल के वेतन में यह अतिरिक्त राशि जुड़ कर आएगी। उनके मूल वेतन के आधार पर तय किया जाएगा कि उन्हें कितनी एक्स्ट्रा सैलरी देनी है।

मूल वेतन के आधार पर तय होगा कि कर्मचारियों को कितनी एक्स्ट्रा सैलरी मिलेगी

शुरू में ही कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम के लिए तैयार किया
कॉग्निजेंट ने कोरोना संकट शुरू होते ही अपने कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम के लिए तैयार कर दिया था। इसके लिए कंपनी ने नए लैपटॉप का वितरण, डेस्कटॉप को एनक्रिप्ट करना और उसे घरों में ले जाना व बीओओडी (ब्रिंग योर ऑन डिवाइस) के उपयोग में सक्षम करने जैसे उपाय किए थे। साथ ही अतिरिक्त बैंडविड्थ कनेक्टिविटी और एयर कार्ड भी प्रदान किए।

रिलायंस ने भी महीने में दो बार सैलरी देने की पेशकश की
रिलायंस इंडस्ट्रीज ने संकट की इस घड़ी में कुछ रोज पहले कम वेतन पाने वालों को महीने में दो बार सैलरी देने का ऐलान किया था। एयरटेल मार्च का वेतन पहले ही दे चुकी है। टाटा स्टील ने कहा है कि वह समय पर सैलरी का भुगतान करेगी। सरकार ने कंपनियों से कहा है कि वह किसी भी कर्मचारी का वेतन ना काटें।

आगे भी ज्यादा राशि देने के लिए कंपनी करेगी समीक्षा
कॉग्निजेंट ने कहा है कि भारत के दो-तिहाई से अधिक कर्मचारियों पर इस फैसले का असर होगा। दिसंबर 2019 तक कंपनी के भारत में कुल कर्मचारियों की संख्या 2,03,700 थी। यानी इसके दो तिहाई 1,30,000 कर्मचारियों को इस फैसले का लाभ होगा। सीईओ ब्रायन हम्परीज ने कंपनी के स्टाफ से कहा कि अतिरिक्त सैलरी देने के लिए आगे मासिक समीक्षा की जाएगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top